जन्मदिवस मुक्तक(4 line birthday greetings)

1.न खुशियाँ कम हो, न दिन कम हो ।
आपकी जिंदगी में, न कभी गम हो ।।
दुआएँ हैं हमारी, खुशहाल हो जिंदगी प्यारी,
आपके जीवन में, सदा रंगीन मौसम हो।

2.साल हो जायें आपकी जिंदगी के हजार।
खुशियों के दिन हो जाए बेशुमार।।
न हो जिंदगी में आपकी कभी हार,
हार भी हो तो, हो खुशियों का हार।।

कवि – अमित चन्द्रवंशी

Advertisements

योग पर मुक्तक

बिन खर्चे एक रुपिया ।
कह दो तुम शुक्रिया ॥
योग से मिटे सब रोग,
तो तू क्यों न कर रिया॥

कवि – अमित चन्द्रवंशी

मंगलकार्य संदेश (Best Wishes)

शुभकामना संदेश
“जिमि अमोघ रघुपति कर बाना।
एहि भाँति तुम पेपर कर आना॥”

भावार्थ : जिस प्रकार श्री रामजी का अमोघ (अचूक) बाण अपने लक्ष्य को प्राप्त कर के ही रहता है अर्थात् वह कभी अपने लक्ष्य से नही भटकता अपितु किसी भी हाल में वह अपने लक्ष्य को प्राप्त कर के ही रहता है। उसी प्रकार आपको भी अपने लक्ष्य से नही भटकना है और प्रश्नपत्र को यथासंभव हल करने का प्रयास करना है ।अर्थात् आपको अचूक बाण की तरह अपने अचूक उत्तर लिख कर आना है।

संदेश : आपकी अमोघ बाण की भांति तैयारी, आपको हर कार्य को पूर्ण और सही तरीके से करने के लिए प्रेरित करेगी ।जो आपकी कार्य करने की क्षमता को भलिभांति बढायेगी।
आपका कार्य मंगलमय हो! (BEST OF LUCK )

द्वारा – अमित चन्द्रवंशी

Note : लेख रामचरितमानस से प्रेरित है।

स्वच्छता पर नारे (Slogans)

1. अपने भारत से क्यो हो तुम खफा।
सफाई करके तो देखो एक दफा।।

2. बेचारा कहता है कूड़ादान
कचरा डालकर करो मेरा सम्मान।

3. बीमारी दौड़ी आएगी
जो साफ सफाई न पाएगी

4. जब कही भी न कचरा होगा
तब ही तंदरुस्ती पहरा होगा

5. एक बात का रखो ये ध्यान
स्वच्छता का हो अभियान

6. जब कचरा ही कचरा होगा
तब बैठना आपका कहाँ होगा

7. जब कोना कोना साफ रहेगा
तब सुंदर कितना शहर दिखेगा

रचनाकार – अमित चंद्रवंशी

दोस्ती (कविता)

दोस्ती ही तो है जो जिंदगी के एक रंग में भी कई रंग दिखाती है।
वरना बिना दोस्तों के रंगीन जिंदगी भी बेरंग सी नजर आती है॥

सच्ची दोस्ती से बढ़कर इस दुनिया में कुछ कहाँ है।
एक भी दोस्त अगर सच्चा है तो अपना सारा जहाँ है॥

जो दोस्त साथ हो तो डर किस उड़ती चिड़िया का नाम है।
मस्त मस्ती में बस हर दम खिलखिलाने का तब काम है॥

Continue reading

दहेज  (कविता)

​जबसे पैदा होती है बेटी, तो एक ही बात होती है जमाने में;
एक बाप लग जाता है तब से दिन रात कमाने में।
कि जैसे भी हो पर दहेज तो कैसे न कैसे जुटाना है;
और अपनी प्यारी बिटिया को उस दहेज से विदा कराना है।

Continue reading

योग पर नारे (Slogans on Yoga)

1.जो चाहते हो तुम रोगों से छुटकारा।
तो लो नियमित योग का सहारा॥

2.योग है स्वस्थ जीवन पहचान।
नियमित योग से रोग निदान ॥

3.जब भी मिले मौका कर लो योग।
फिर देखो कैसे भागे रोग॥

Continue reading